Wrestling Federation of India (WFI)भारतीय कुश्ती संघ |अध्यक्ष पद के लिए संजय सिंह और अनीता श्योराण आमने-सामने
Spread the love

भारतीय कुश्ती संघ चुनाव में अध्यक्ष पद के लिए घमाशान 

भारतीय कुश्ती संघ ( WFI- Wrestling Federation of India)

आज भारतीय कुश्ती संघ ( WFI- Wrestling Federation of India) की अध्यक्ष पद का चुनाव होने जा रहा है एवं आज ही नतीजा की घोषणा भी कर दी जाएगी।  जिसमें दो प्रत्याशी अध्यक्ष पद के लिए अपना दावा कर रहे हैं जिसमें पहले अनीता श्योराण (Anita Sheoran) और दूसरे संजय सिंहSanjay Singh) ।

अध्यक्ष पद के अलावा WFI के 15 पदों के लिए चुनाव होना है- एक वरिष्ठ उपाध्यक्ष, दो उपाध्यक्ष, दो संयुक्त सचिव एवं पांच कार्यकारी सदस्यों के लिए भी आज चुनाव होगें। जिसमें पूरे देश के कुल 25 कुश्ती संघों में से दो – दो वोट आएंगे इसका मतलब टोटल 50 वोट पड़ने हैं। ये भी बड़ा रोचक है कि मध्य प्रदेश के नव निर्वाचित मुख्या मंत्री श्री मोहन यादव जी भी उपाध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल हैं जो एक पूर्व पहलवान भी है। बृजभूषण सिंह का 12 साल का भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष पद बहुत विवादित रहा। देश की बड़ी महिला पहलवानों ने इन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया और देश के सभी खिलाड़ियों ने इन महिला पहलवानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर इनका साथ देते हुए विरोध प्रदर्शन भी किया भूख हड़ताल पर बैठे। और इन्हीं सब विरोध प्रदर्शनों के चलते प्रदूषण सिंह को अध्यक्ष पद से हटना पड़ा। और सभी पहलवानों से यह वादा भी किया गया की आने वाले चुनाव में ना ही बृजभूषण सिंह ना ही उनके परिवार के किसी सदस्य अन्य सदस्य को संघ के चुनाव लड़ने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसलिए संजय सिंह की दावेदारी पर विरोध हो रहा है क्यों की उन्हें ब्रिज भूषण सिंह का करीबी मन जा रहा है । 

संजय सिंह NDTV से बात करते हुए कहा कि “उन्हें अधिकतर राज्यों के कुश्ती संघों का समर्थन प्राप्त है। ” आगे उन्होंने कहा कि “कुश्ती बिरादरी जानती है कि खेल की भलाई के लिए किसने काम किया है और वोट डालते समय इसे ही ध्यान में रखा जाएगा। ”  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मोहन यादव जी के बारे में पूछने पर संजय सिंह ने NDTV को बताया कि “यह तथ्य कि एक पहलवान एक राज्य का मुख्यमंत्री बन गया है एक बड़ा संदेश है मुझे यकीन है की वह यहां भी जीतने में सफल रहेंगे”

अनीता श्योराण (Anita Sheoran)

महिला पहलवान

जन्म 24 नवंबर 1984 

अनीता श्योराण ने एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप और राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप यानी कॉमनवेल्थ गेम मैं कई पदक हासिल किया जैसे की 2010 कि कॉमनवेल्थ गेम्स में महिला कुश्ती में उन्होंने देश को स्वर्ण पदक दिलाया था। 2005 के कॉमनवेल्थ गेम्स में 67 किलोग्राम फ्रीस्टाइल वर्ग में भी अनीता ने कंस पदक जीता था। इसके अलावा 2008 के एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में अनीता श्योराण ने 49 किलोग्राम फ्रीस्टाइल वर्ग में कांस्य पदक जीता था। इस तरह और भी कई मेडल जीता कर हमारे देश को गौरान्वित की कर चुकी हैं।

अनीता श्योराण ने हमारे देश को महिला कुश्ती में कई मेडल दिला कर हमारे देश को गौरान्वित किया है उनका नाम है।  ब्रिज भूषण सिंह का विरोध कर रहे सरे खिलाडियों का समर्थन श्योराण को प्राप्त है, ऐसा मन जाता है।  

संजय सिंह 

संजय सिंह उत्तर प्रदेश के चंदौली के रहने वाले है । इनका रिश्ता किश्ती से पुश्तैनी है , इनके दादा एवं पिता दंगल का आयोजन कार्य करते थे । इसी वजह से संजय सिंह ने भी बचपन से ही घर मैं पहलवानी का माहौल देखा है और पहिलवाणी के क्षेत्र मैं उल्लेखनीय कार्य भी किया है।

2008 में रिपोर्ट्स के मुताबिक वाराणसी कुश्ती संघ के अध्यक्ष बने और जब 2009 में उत्तर प्रदेश कुश्ती संघ बना तो ब्रिज भूषण सिंह उसके अध्यक्ष बने साथ मैं उपाध्यक्ष के तौर पर ये संजय सिंह उपाध्य्क्ष के तौर पर मनोनीत हुए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.