KEJRIWALKejriwal
Spread the love

“ED बुलाने का विवाद: केजरीवाल ने सम्मन अवैध बताया”

 

केजरीवाल : ED सम्मन पर प्रेस वार्ता

दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल ( AAP  पार्टी अध्यक्ष ) का बड़ा बयान। प्रेस वार्ता कर भाजपा पर आक्रमण करते हुए कई आरोप लगाए। शराब घोटाले से लेकर । इ.डी। से लेकर सीबीआई (CBI) तक सब पर सवाल उठाये और कहा की अगर मैं बईमान होता तो अबतक बीजेपी मैं शामिल हो चूका होता । 

  • शराब घोटाल
  • बीजेपी मुझे लोकसभा मैं प्रचार नहीं करना देना चाहती है ।
  • मेरे खिलाफ ED सम्मन गैरकानूनी है।

उन्होंने अपनी प्रेस वार्ता मैं कहा कि :

“ शराब घोटाला पिछले 2 साल से आपने यह शब्द कई बार सुना होगा 2 साल से बीजेपी की कई एजेंसी कई रेट मार चुकी हैं। कई लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। लेकिन अभी तक एक भी पैसे का हेर-फेर कहीं भी नहीं मिला, कहीं से एक भी पैसा नहीं मिला। अगर भ्रष्टाचार वाकई हुआ है तो इतने करोड रुपए गए कहां क्या सारा पैसा हवा में गायब हो गया, सच्चाई यह है कि किसी भी तरह का कोई भी भ्रष्टाचार हुआ ही नहीं। अगर होता, तो पैसा भी मिलता। ऐसे फर्जी केस में आम आदमी पार्टी के कई नेताओं को इन्होंने जेल में डाला हुआ है। किसी भी के खिलाफ कोई सबूत नहीं है। कुछ साबित नहीं हो रहा खुलेआम गुंडागर्दी चल रही है। किसी भी को पकड़ कर जेल में डाल दो। अब बीजेपी मुझे गिरफ्तार करना चाहती है। मेरी सबसे बड़ी संपत्ति मेरी सबसे बड़ी ताकत मेरी ईमानदारी है। झूठे आरोप लगाकर फर्जी सम्मन भेज के मुझे बदनाम करना चाहते हैं। मेरी ईमानदारी पर चोट करना चाहते हैं। इन्होंने मुझे सम्मन भेजे हैं। मेरे वकीलों ने मुझे बताया कि यह सम्मन गैरकानूनी है। क्यों गैरकानूनी है क्यों गैरकानूनी है यह मैं इनको विस्तार से लिखकर भेजा है। मैंने उनको बताया है कि उनके सम्मन कैसे गैरकानूनी है। लेकिन उन्होंने मेरी एक भी बात का जवाब नहीं दिया इसका मतलब उनके पास मेरी बातों का जवाब नहीं है इसका मतलब वह भी मानते हैं कि उनके नोटिस गैरकानूनी है क्या मुझे एक गैरकानूनी सम्मन का पालन करना चाहिए? अगर कानूनी रूप से सही सम्मन आएगा तो मैं पूरी तरह से सहयोग करूंगा। बीजेपी का मकसद जांच करना तो है ही नहीं।  इनका मकसद तो लोकसभा चुनाव में मुझे प्रचार करने से रोकना है। ठीक लोकसभा चुनाव के पहले इन्होंने मुझे सम्मन भेजे। क्यों इस जांच को चलते 2 साल हो गए अभी ठीक लोकसभा चुनाव के पहले मुझे क्यों बुलाया जा रहा है, पहले क्यों नहीं बुलाया।  सीबीआई ने मुझे 8 महीने पहले बुलाया था। मैं गया था,  उनके सारे जवाब भी दिए थे। अब यह लोग लोकसभा चुनाव के ठीक 2 महीने पहले मुझे बुला रहे हैं तो बीजेपी का मकसद कोई पूछताछ करना थोड़ी है इनका मकसद है पूछताछ के बहाने केजरीवाल को बुला लो और उसे गिरफ्तार कर लो ताकि मैं लोकसभा चुनाव में प्रचार न कर पाऊं। 

आज बीजेपी भ्रष्टाचारियों को नहीं पकड़ रही बल्कि खुलेआम E.D. और सीबीआई (CBI) का इस्तेमाल करके दूसरी पार्टी के नेताओं को तोड़कर बीजेपी में शामिल करने का काम किया जा रहा है। एक नई दो नई कितने उदाहरण है। जहां पर दूसरी पार्टी की नेताओं पर पीडीएस सीबीआई के मामले चल रहे थे जैसे ही वह नेता बीजेपी में शामिल हुए उनके सारे मामले बंद कर दिए गए या ठंडा बास्ते में में डाल दिए गए। तो जो उनकी पार्टी ज्वाइन कर लेता है उसके सारे मामले रफा-दफा कर दिए जाते हैं। ज्वाइन की पार्टी में नहीं जाता वह जेल जाता है। 

आज मनीष सिसोदिया, संजय सिंह और विजय नायर इसलिए जेल में नहीं है कि उन्होंने भ्रष्टाचार किया है। वह इसलिए जेल में है क्योंकि उन्होंने भाजपा में शामिल होने से इनकार कर दिया है। आज हम बीजेपी का मुकाबला क्यों कर पा रहे हैं, क्योंकि हमने कोई भ्रष्टाचार नहीं किया। अगर हमने कोई गलत काम किया होता तो दूसरे नेताओं की तरह आज तक हम भी बीजेपी में शामिल हो चुके होते हैं। इस तरह देश के ईमानदार नेताओं को जेल में डालकर और भ्रष्टाचारियों को अपनी पार्टी में शामिल करवा के ऐसे तो देश आगे नहीं बढ़ सकता।  

यह क्या चल रहा है यह जो कुछ भी चल रहा है बहुत खतरनाक है यह हमारे जनतंत्र के लिए बहुत गलत है इसे रोकना होगा। मैं हमेशा अपने देश के लिए लड़ा हूं मेरा तन मन धन देश के लिए मेरी एक-एक सांस देश के लिए है मेरी खून की एक-एक बूंद देश के लिए है मेरे शरीर का एक-एक कतरा देश के लिए समर्पित है हमें मिलकर देश को बचाना है मैं पूरी की जान से इस देश के लिए लड़ रहा हूं आपका साथ चाहिए ”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.